योगासन करते हुए कुछ सावधानियां (PRECAUTIONS WHILE DOING YOGA )

आजकल योग बहुत अधिक लोकप्रिय हो रहा है /बहुत से लोग  प्रतिदिन योग कर  रहे है /लोगो कोै लाभ् बहुत अधिक हों रहां हैा योग से सभी का शारीरिक और मानसिक दोनों प्रकार से विकास हो रहा है //
परन्तु कुछ लोग ये भी कहते हुए मिलते है योग से उन्हें तो कुछ लाभ नहीं हुआ /

                                   क्या वो लोग सच बोल रहे होते  है?

ये जानने के लिए जब मैंने कुछ लोगो से विस्तार पूर्वक बात की तो पता चला की वो लोग जानकारी के आभाव में छोटी छोटी गलतियां कर रहे थे /जिसके कारण अपेक्षित लाभ नहीं हो पा रहा था और यदि आपके पास भी इस प्रकार की कोई समस्या है तो इस आलेख को बहुत ही ध्यान से पढ़े और फिर सदैव योग अभ्यास करते हुए इन बातों का ध्यान रखना आपके लिए अत्यंत आवश्यक रहेगा । जब आप बिल्कुल सही तरीके से सही प्रकार से सभी सावधानियों को ध्यान में रखते हुए योगाभ्यास करते हैं तो फिर कोई कारण नहीं है कि आपको शारीरिक और मानसिक लाभ ना हो आप की सभी समस्याएं ,आपकी शारीरिक बीमारियां दूर ना हो जाए ।योग एक बहुत ही लाभदायक प्रक्रिया है जिससे शारीरिक और मानसिक विकास दोनों प्रकार का होता है/ 

                              योगाभ्यास करते हुए कुछ महत्वपूर्ण बातें ध्यान रखने योग्य

1 सर्वप्रथम किसी खुले स्थान पर जाएं जैसे पार्क या आपके घर की छत जहां पर ऑक्सीजन प्रचुर मात्रा में आ रही हो जमीन पर सूती चादर या कोई कपड़ा बिछा कर बैठे/
2 अपने सर को किसी सूती वस्त्र से या कैप से ढक लें‍/
3 खाली पेट हो टॉयलेट होकर जाए यदि पेट साफ ना हो रहा हो तो सुबह उठ कर दो गिलास गुनगुना पानी पी ले और शंखप्रक्षालन की क्रिया करें/

4 यदि कोई ऑपरेशन हुआ हो तो डॉक्टर की सलाह के पश्चात तीन महीने अर्थात 90 दिन से पहले कोई व्यायाम ना करें/

5 स्वास भर कर पीछे झुकने की एक्सरसाइज करते हैं स्वास् छोड़ते हुए आगे झुकते हैं/

6 शरीर की क्षमता से अधिक कोई एक्साइज नहीं करते हैं/
7ब्रह्म मुहूर्त का समय एक्सरसाइज करने के लिए सबसे अच्छा होता है अर्थात सुबह 5:00 बजे के लगभग जब सूर्य निकलने वाला है/
8 सर्वप्रथम व्यायाम करना चाहिए उसके पश्चात प्राणायाम करना चाहिए/
9 शाम के समय भी एक्सरसाइज कर सकते हैं यदि सुबह नहीं कर पा रहे हैं परंतु कम से कम दो-तीन घंटे पहले खाना खाया हुआ हो खाने के पश्चात तो सिर्फ बज्रासन कर सकते हैं जो कि हमारे खाने को पचाने में सहायक होता है/
10अंत में सूक्ष्म क्रियाएं करनी चाहिए/
11 कमर में दर्द हो आगे नहीं झुकना चाहिए गर्दन में दर्द हो तो आगे को झुकने वाली एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए/
12 मुख हमेशा पूर्व दिशा में रखना चाहिए/
13 आंखें बंद कर कर क्रिया पर ध्यान देना चाहिए पूरी तरह से ध्यान केंद्रित करना चाहिए/
14 महिलाओं को अपने पीरियड के दौरान एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए/
15 गर्भावस्था में भी एक्सरसाइज नहीं करनी चाहिए डॉक्टर की सलाह के अनुसार कुछ सूक्ष्म व्यायाम आदि कर सकती हैं/

16 बिना सही विधि जाने कोई भी आसान प्राणायाम अथवा व्यायाम नहीं करना चाहिए अन्यथा लाभ के स्थान पर हानि हो सकती है/

17 किसी योग्य योग शिक्षक की देखरेख में ही प्रारंभ में व्यायाम ,आसन और प्राणायाम करने चाहिए जब आप पूरी तरह से दक्ष हो जाते हैं तब अपने आप कर सकते हैं क्योंकि सही विधि से ही आपको संपूर्ण लाभ होता है/

18 हर आसन व्यायाम और प्राणायाम में सांसो का एक अलग सिस्टम होता है उसके आधार पर ही स्वास् को लेना और छोड़ना होता है यदि हम स्वास की क्रिया का ध्यान रखते हुए व्यायाम करते हैं तो हमें अच्छा लाभ होता है।

                   ये भी बहुत ही लाभदायक आलेख है जिनको पड़ना आपके लिए विशेष लाभप्रद सिद्ध होगा अत ध्यान दे कर  पढ़े और लाभ प्राप्त करे /

                                                                                          गर्दन के दर्द को दूर करें/

                                                                                गैस और कब्ज से छुटकारा पाएं

                                                                                 गैस भगाए आराम दिलाए तुरंत/

                                                                                   बच्चों को भूख नहीं लगती?

                                                                      घुटने के प्रत्यर्पण से योग द्वारा छुटकारा संभव/

इस प्रकार यदि हम ऊपर बताई गयी सावधानियों का ध्यान रखते हुए योगाभ्यास करते है तो हमे जीवन में कोई भी किसी भी प्रकार  का रोग नहीं हो सकता है और यदि किसी भी प्रकार का रोग है तो उसका निदान हो जायेगा /

 

आप से अनुरोध है कि यदि आप इस से होने वाले लाभ के प्रति अपने सुझाव प्रतिक्रिया या और कोई प्रश्न हो तो नीचे कमेंट बॉक्स में अवश्य लिखें और इस लेख को शेयर भी करें Google प्लस ,Facebook ,Twitter या WhatsApp पर।

धन्यवाद्
मनोज मेहरा

(योग ओर निरोग)