क्या आप टॉयलेट में बैठकर न्यूज़ पेपर पढ़ते हैं?

क्या आप टॉयलेट में बैठकर न्यूज़ पेपर पढ़ते हैं? ,

आप टॉयलेट में मोबाइल देखते हैं ,आप टॉयलेट में बैठकर मैगजीन पढ़ते हैं, यदि ऐसा है तो आपको आज का आर्टिकल अवश्य पढ़ना चाहिए यह आपके लिए बहुत ही लाभदायक ,बहुत ही काम का सिद्ध हो सकता है क्योंकि आप शायद जानते हैं या नहीं जानते हैं जिन लोगों का स्वास्थ्य अच्छा होता है वह लोग टॉयलेट में जाते ही बाहर आ जाते हैं ,उनको बहुत देर नहीं लगती है, लेकिन जो लोग टॉयलेट में बैठकर मोबाइल चलाते हैं ,न्यूज़ पेपर पढ़ते हैं ,मैगजीन पढ़ते हैं। इसका मतलब होता है उनको टॉयलेट में काफी देर लगती है, उनको टॉयलेट आने में समय लगता है वह बैठे रहते हैं, और उनको मोशन नहीं हो पाता है यदि  आपके साथ भी इस प्रकार की  समस्या है तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत ही नुकसानदेह है ।स्वस्थ आदमी वही माना जाता है जिसका एक सेकंड में फटाक से साफ हो जाए ,जिसको पेट साफ करने में देर लगती है वह आदमी अधिक बीमारी के चक्कर में फंस सकता है। यदि आपको इस प्रकार की समस्या है तो आज का आलेख आपको अवश्य पढ़ना चाहिए और शुरू से लेकर अंत तक ध्यान से पढ़े और अपने जीवन में फॉलो करें तो आपका स्वास्थ्य अच्छा हो जाएगा। आप की बीमारी बिल्कुल दूर हो जाएंगी ।आपको किसी भी तरह की कोई समस्या नहीं आएगी। आपने यह तो सुना ही होगा पेट सफा तो हर रोग दफा, सभी बीमारियां हमारे पेट से उत्पन्न होती है अतः हमें यह ध्यान रखना आवश्यक है कि हमारा पेट साफ हो ।पेट को साफ रखने के लिए मैं आपको इस आलेख में कुछ योगाभ्यास बताने वाला हूं जो आपको प्रतिदिन प्रात: काल में करने हैं जिससे कि आपका पेट पूरी तरह साफ हो जाएगा और आपका यदि पेट साफ हो जाए तो आपके जीवन से सभी बीमारियां दूर हो जाएंगी। आपको कभी जिंदगी में डॉक्टर के पास जाने की आवश्यकता ही नहीं पड़ेगी ।

1★सर्वप्रथम लेट कर दिचक्रीकासन करेंगे अर्थात हाथ और पैरों से दोनों से साइकिल चलाएंगे।

2★ नौकासन का अभ्यास करेंगे।

3★कंधरासन का अभ्यास करेंगे।

4★पवन मुक्त आसन का अभ्यास करेंग

5 * मत्स्य आसन का अभ्यास करेंगे।

6*गौमुखासन का अभ्यास करेंगे।

7★अंत में  हम 15 से 30 मिनट कपालभाति और अनुलोम विलोम प्राणायाम का अभ्यास करेंगे।

यदि इन आसनों को इसी प्रकार से क्रम में करेंगे तो हमारा पेट पूर्णतया साफ होने लगेेगा।हर आसन 

 3से 5 बार प्रतिदिन अवश्य करे।

हमारे पेट की सक्रियता बढ़ जाएगी।

हमारे पेट के आंतरिक अंग जैसे कि पेनक्रियाज ,अग्नाशय , अमाशय,यकृत  आंते अच्छे से पाचन क्रिया में सहयोग करेंगे और हमारा पेट बहुत जल्दी साफ हो जाएगा और हमें टॉयलेट में बैठकर मैगजीन न्यूजपेपर या मोबाइल चलाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी वह गंदी आदत हमारी खत्म हो जाएगी।

           *विशेष ध्यान देने योग्य *

योगाभ्यास करने के साथ-साथ आपको अपने  खाने-पीने के सिस्टम को भी सुधारना होगा।

समय पर खाएं, भूख से थोड़ा कम खाएं ,चबा चबाकर खाएं।

मौसम केे फल और सलाद अधिक लेे।

मैदा और मैदे से बनी वस्तुओं का सेवन कम करें। अधिक चिकनाई वाली वस्तुएं ,तली भुनी चीजें ,चाट ,पकौड़ी ,फास्ट फूड ,जंक फूड इन से दूर रहे तो अच्छा है।

पानी खाना खाने के 90 मिनट बाद ही पिए। पानी जब भी पियें जमीन पर बैठकर पिए, घुट घुट कर पीना चाहिए पानी को हमेशा ।

चाय, कॉफी, कोल्ड ड्रिंक  अल्कोहल आदि का सेवन बिल्कुल ना करें ।

बाजार की पैकेज्ड फूड कभी भी आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं होता है ।

अंत में एक शानदार टिप

जब तक आपका पेट अच्छे ढंग से साफ नहीं होने लगता है तब तक आप अपने पेट पर ताजे पानी की पट्टी भी रख सकते हैं जिससे कि आपके पेट में आंतों की सक्रियता बढ़ेगी और पेट में जमा मल बाहर आएगा।आपका स्वास्थ्य अच्छा हो जाएगा। ताजे पानी की पट्टी किस प्रकार रखते हैं उसके लिए आप इस लिंक पर क्लिक कर सकते हैं।

Leave a Reply